Trending

OYO Hotel Rule: OYO होटलों में जाने वाले हो जाये सावधान, अब होटल को लेकर लागू हुए नए नियम

OYO Hotel Rule: OYO होटल्स देश में टॉप रेटेड, सुविधाजनक और बजट-अनुकूल होटल विकल्प के रूप में उभरा है। लोग ओयो होटलों द्वारा प्रदान की जाने वाली उत्कृष्ट सुविधाओं के कारण उनमें रहना पसंद करते हैं। हालाँकि, इन होटलों ने विभिन्न अवैध गतिविधियों में संलग्न होने के कारण नकारात्मक प्रतिष्ठा प्राप्त की है। परिणामस्वरूप, सरकार ने इन प्रतिष्ठानों को कानून का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए नए नियम पेश किए हैं।

पुलिस इन स्थानों को संचालित करने वाले लोगों को दंडित कर रही है। यह प्रतिबंध आवश्यक है क्योंकि अधिक पर्यटक आ रहे हैं और होमस्टे और गेस्ट हाउस होटलों की अधिक मांग है।

गृह विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि कई होटल और गेस्ट हाउस कुछ नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, जिससे वे कानूनी परिणामों से बच सकते हैं और उचित रूप से पंजीकृत हुए बिना काम कर सकते हैं। इन प्रतिष्ठानों की रिपोर्ट करना और जांच करना चुनौतीपूर्ण है।

नए नियमों के अनुसार, गृह विभाग होटल गेस्ट हाउस और अन्य होमस्टे के आवश्यक पंजीकरण के लिए एक वेबसाइट स्थापित करेगा। यदि ये प्रतिष्ठान कुछ आवश्यकताओं को पूरा नहीं करते हैं, तो उन्हें बंद किया जा सकता है, दंड से जोड़ा जा सकता है, या स्थायी रूप से प्रतिबंधित किया जा सकता है।

यदि कोई गतिविधि असामान्यता पाई जाती है, तो संस्थानों को आजीवन प्रतिबंध का सामना करना पड़ेगा। यह होटल एक नियम को सख्ती से लागू करता है जिसके तहत प्रवेश पाने के लिए प्रत्येक व्यक्ति के पास एक पहचान पत्र होना आवश्यक है।

इस योजना के अनुसार, सभी होटल, गेस्ट हाउस, होमस्टे और OYO होटल को आधिकारिक तौर पर नामांकित करना महत्वपूर्ण है। इन प्रतिष्ठानों को अपने मेहमानों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक जानकारी और दिशानिर्देश प्रदान करने की आवश्यकता होगी। इन नियमों का पालन न करने पर होटल बंद कर दिए जाएंगे।

होटलों और गेस्ट हाउसों में तस्करी और वेश्यावृत्ति जैसी अवैध गतिविधियाँ बिना रुके चल रही थीं। इन प्रतिष्ठानों पर सरकार की बार-बार छापेमारी के बावजूद, वे नियमों की अवहेलना करते रहे। नतीजतन, सरकार ने अब इन होटलों पर प्रतिबंध लगाने के लिए सभी आवश्यक नियम लागू कर दिए हैं।

उल्लिखित सभी बातों के अलावा, होटलों में पर्याप्त पर्यटक सुविधाओं, अग्नि सुरक्षा उपायों और चिकित्सा सेवाओं का अभाव है। सरकार ने दिशानिर्देश स्थापित किए हैं जिनके तहत जल्द ही होटलों में सुरक्षा कैमरे लगाने और आगमन पर मेहमानों से पहचान एकत्र करने की आवश्यकता होगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button